aaj ik aur baras biit gayā us ke baġhair

jis ke hote hue hote the zamāne mere

रद करें डाउनलोड शेर
Mohammad Yusuf Papa's Photo'

मोहम्मद यूसुफ़ पापा

1930 | दिल्ली, भारत

प्रतिष्ठित हास्य-व्यंग शायर

प्रतिष्ठित हास्य-व्यंग शायर

मोहम्मद यूसुफ़ पापा

ग़ज़ल 6

नज़्म 14

अशआर 13

दुश्मनों की दुश्मनी मेरे लिए आसान थी

ख़र्च आया दोस्तों की मेज़बानी में बहुत

  • शेयर कीजिए

जब भी वालिद की जफ़ा याद आई

अपने दादा की ख़ता याद आई

  • शेयर कीजिए

यहाँ जितने हैं अपने बाप के हैं

तुम्हारे बाप का कोई नहीं है

  • शेयर कीजिए

दूसरी ने जो सँभाली चप्पल

पहली बीवी की वफ़ा याद आई

  • शेयर कीजिए

जल गया कौन मेरे हँसने पर

''ये धुआँ सा कहाँ से उठता है''

  • शेयर कीजिए

हास्य शायरी 11

पुस्तकें 7

 

"दिल्ली" के और शायर

Recitation

Jashn-e-Rekhta | 8-9-10 December 2023 - Major Dhyan Chand National Stadium, Near India Gate - New Delhi

GET YOUR PASS
बोलिए